Welcome to hindi soch here you see hindi spiritual stories.love stories movies stories horror stories and much more in hindi

October 15, 2019

हनुमान जी द्वारा शनिदेव को दण्ड शनिवार के दिन हनुमानजी को तेल क्यो चढ़ाते है? Hindi soch

 Spiritual stories in hindi soch
Spiritual stories in hindi soch
Spiritual stories in hindi soch

हनुमान जी द्वारा शनिदेव को दण्ड शनिवार के दिन हनुमानजी को तेल क्यो चढ़ाते है?

दोस्तो आपका स्वागत है hindi soch में और मैं हु आपका दोस्त मुंगेरी ढालिया ।दोस्तो शनिदेव और हनुमानजी की कई कथाएं प्रचलित है।चलिए हम शनिदेव और हनुमान जी के बारे में जानते है।

 हनुमान जी द्वारा शनिदेव को दण्ड

शनिदेव सूर्यदेव और देवी छाया के पुत्र है।हनुमान जी के पिता केसरी और माता अंजना है।
शनिदेव न्याय के देवता है।वो कर्मो के अनुसार सबको सुख और दुख प्रदान करते है।
 एक बार हनुमान जी राम सेतु के पास नाम जप कर रहे थे ।कि तभी वहां पर अपनी शक्ति में चूर शनिदेव आये और हनुमानजी को युद्ध के लिए ललकारने लगे हनुमानजी ने उनकी ओर ध्यान नहीं दिया और वो अपना नाम जप करते रहे।
लेकिन शनिदेव उनको बार बार युद्ध के लिए ललकारते रहे ।
हनुमानजी ने उठ कर अपनी पूंछ में शनिदेव को लपेटना शुरू कर दिया और उनको पूरी तरह से अपनी पूंछ में लपेट लिया।
शनिदेव ने अपनी पूरी शक्ति लगा दी पर वो हनुमानजी की पूंछ के बंधन से नही छूट पाए।अब हनुमानजी की रामसेतु की परिक्रमा करने का समय हो गया था।वो शनिदेव को अपनी पूँछ में बांधे ही परिक्रमा करने लगे।
जब वो सेतु पर दौड़ रहे थे तो पत्थरों की रगड़ से शनिदेव घायल हो गए और उनकी शक्ति का अहंकार भी टूट गया।फिर
उन्होंने हनुमानजी से क्षमा याचना की।हनुमानजी ने उनको मुक्त किया।

शनिवार के दिन हनुमानजी को तेल क्यो चढ़ाते है?

शनिदेव का शरीर बहुत ही घायल था हनुमानजी ने शनिदेव को अपने घाव पर लगाने के लिए तेल दिया।
तेल लगाते ही उनके घाव ठीक हो गए।
शनिदेव ने हनुमानजी से कहा कि जी भी शनिवार के दिन हनुमानजी पर तेल चढ़ाएगा उनको शनिदेव कभी दुखी नही करेंगे।
इसलिए हनुमानजी को शनिवार के दिन तेल चढ़या जाता है।


No comments:

Post a Comment