Welcome to hindi soch here you see hindi spiritual stories.love stories movies stories horror stories and much more in hindi

July 24, 2019

love story in school in hindi soch love story in hindi

love story school in hindi soch love story in hindi

हेलो दोस्तो आपका स्वागत है love story in school in hindi soch । दोस्तो ,love story in school 
जब हम स्कूल में पढ़ते थे ।वो दिन आज हमको बहुत याद आते है ।और उन दिनों की याद आते ही हमारे मन मे अजीब सी खुशी आ जाती है ।दोस्तो और अपने स्कूल के दिनों में किसी लड़के ने किसी लड़की को अपना दिल न दिया हो ऐसा हो ही नही सकता इसलिए पुराने दिनों की याद ताजा करने के लिए मैं ये love story in school  लिख रहा हु शायद आपको भी अपने school के दिनों का प्यार याद आ जाये।

Love story in school

Love story hindi
Love story hindi
सुमित 10th में हुआ था आज स्कूल का पहला दिन था ।उसने आज ये फैसला कर लिया था कि वह आज प्राची को अपने दिल की बात बता देगा कि वो उसको पसंद करता है।लेकिन उसको पता चलता है कि प्राची आज आयी ही नही।
वो बहुत ही उदास हो जाता है ।और वो स्कूल से चला जाता है ।रास्ते मे उसको प्राची की फ्रेंड गौरी मिलती है।
सुमित गौरी को पूछता है कि प्राची आज स्कूल क्यो नही आई।गौरी बोलती है कि उसकी थोड़ी तबियत खराब है ।इसलिए वो आज स्कूल नही आई।जो सुमित कभी मंदिर नही जाता था ।वो आज मंदिर में जाकर प्राची के लिए प्राथना करता है ।कि प्राची को ठीक कर दे ।
अगले दिन वो स्कूल में प्राची को ठीक देखकर बहुत खुश हो जाता है ।और उसको जाकर पूछता है। कि तुम अब कैसा महसूस कर रही हो तो प्राची बोली ठीक ।फिर प्राची ने पूछा कि तुम मंदिर कब से जाने लगे गए ।
हम 5th क्लास से साथ है पर मैने आज तक तुम को मंदिर जाते नही देखा। तब सुमित ने पूछा तुमको किसने बताया ।प्राची बोली कि गौरी ने तुमको कल मंदिर में देखा था। उसने कहा कि ऐसे ही ।ऐसे तो नही जा सकते प्राची ने कहा।सुमित बोला कल तुम्हारी तबियत खराब थी ।
इसलिए मैं मंदिर में तुम्हारे लिए प्रार्थना करने गया था। और भगवान ने तुमको ठीक कर दिया।क्या तुम मेरे लिए मंदिर में गए थे प्राची ने कहा । क्यो तुम भी तो मेरे लिए मंदिर जाती थी।
मैं नही जा सकता क्या। तब प्राची ने कहा कि तुम पता था कि मैं तुम्हारे लिए मंदिर जाती थी।हाँ सुमित बोला।और मुझे तुमसे एक बात और कहनी है ।कि मैं तुमको पसन्द करता हु ।प्राची ने कहा कि मैं भी तुमको पसन्द करती हूं और कल मैं स्कूल के पहले दिन तुमको ये कहने वाली थी ।
पर मुझको बुखार हो गया और मैं कल नही आ पाई । सुमित बोला मैं भी पहले दिन तुमको यही कहना चाहता था। और उसने गुलाब का फूल प्राची को दिया।और वो दोनों अपनी क्लास में चले गए।
कॉमेंट एंड शेयर
  धन्यवाद

No comments:

Post a Comment